Wednesday, August 26, 2009

कम्युनिस्ट पार्टी का घोषणापत्र

डेविड रियाज़ानोव
(मार्क्‍स-एंगेल्स इंस्टीट्यूट, मास्को के निदेशक) की प्रस्तावना और व्याख्यात्मक टिप्पणियों सहित
‘कम्युनिस्ट पार्टी का घोषणापत्र’ वैज्ञानिक कम्युनिज़्म का पहला कार्यक्रम-मूलक दस्तावेज़ है जिसमें मार्क्‍सवाद के मूल सिद्धान्तों की विवेचना की गयी है। यह महान ऐतिहासिक दस्तावेज़ वैज्ञानिक कम्युनिज़्म के सिद्धान्त के प्रवर्तक कार्ल मार्क्‍स और फ्रेडरिक एंगेल्स ने तैयार किया था और 1848 के प्रारम्भ में यह प्रकाशित हुआ था। लेनिन के शब्दों में, ''यह छोटी-सी पुस्तिका अनेकानेक ग्रन्थों के बराबर है: उसकी आत्मा सभ्य संसार के समस्त संगठित और संघर्षशील सर्वहाराओं को प्रेरणा देती रही है और उनका मार्गदर्शन करती रही है।''
‘कम्युनिस्ट पार्टी का घोषणापत्र’ पर राजनीतिशास्त्र के कई विद्वानों ने व्याख्याएँ और टिप्पणियाँ लिखी हैं। इनमें अब तक सर्वाधिक गम्भीर, वैज्ञानिक और सटीक व्याख्याएँ-टिप्पणियाँ क्रान्ति के बाद मास्को में स्थापित मार्क्‍स-एंगेल्स इंस्टीट्यूट के निदेशक डेविड रियाज़ानोव की ही मानी जाती रही हैं। 1923 में प्रकाशित कम्युनिस्ट घोषणापत्र की ये व्याख्याएँ-टिप्प्णियाँ तत्काल पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बन गयीं और अधिकांश कम्युनिस्ट पार्टियों ने इन्हें पाठ्य पुस्तक-सा बना लिया था। रियाज़ानोव की विस्तृत भूमिकाओं, व्याख्याओं और अनुपूरक निबन्धों के साथ घोषणापत्र का यह संस्करण कम्युनिज़्म के गम्भीर अध्येताओं के साथ ही युवा कार्यकर्ताओं और इस युग परिवर्तनकारी विचारधारा को समझने में रुचि रखने वाले हर व्यक्ति के लिए आज भी बहुमूल्य और बेहद उपयोगी सिद्ध होगा।

प्रकाशक : राहुल फाउण्‍डेशन
मूल्‍य : 100/-

2 comments:

Krishna Kumar Mishra said...

very nice blog

Anonymous said...

page ranking sempo seo backlinks generate backlinks

हाल ही में

Powered by Blogger Gadgets