Sunday, January 4, 2009

भोपाल पुस्‍तक मेला (3 - 11 जनवरी, 2009) में जनचेतना के स्‍टॉल पर आप आमंत्रित हैं।

हम ऐसी किताबें लेकर आए हैं
जो आपकी मोहनिद्रा झकझोरकर तोड़ दें
जो आज के हालात पर आपको
सोचने पर मजबूर कर दें।
हम किताबें नहीं
लड़ने की ज़ि‍द और
हालात की बेहतरी उम्‍मीदें लेकर आए हैं
हम लेकर आए हैं
एक सार्थक, स्‍वाभिमानी, मुक्‍त जीवन की तड़प।
किताबें नहीं,
हम असली इंसान की तरह जीने का संकल्‍प लेकर आए हैं....


स्‍टॉल नं. 10, डी पैवेलियन, विट्ठल मार्केट, भोपाल

भोपाल में संपर्क: 09971158783, 9871705964, 9891223177

2 comments:

vijay gaur/विजय गौड़ said...

bhopal mai hota to jaroor aata.

Ghanashyam said...

daitwabodh padhkar vicharoko parkhneka practice ke sath moka mila.ese magzine bharatme aur kitne he? janchenaa per net pe jankari milneme dikkat hoti he.
shyam sonar mumbai

हाल ही में

Powered by Blogger Gadgets